लगभग १५० सालो के इतिहास में “न्यूयॉर्क मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट” के पहले भारतीय ट्रस्टी के नाम में नीता अंबानी का चयन

सभी लोगो को मेरा नमस्कार, जिनके बारे में आज के इस आर्टिकल में बात करने जा रहा हु वह सख्श किसी भी पेहचान का मोहताज नहीं है। केवल भारत में ही नहीं अपितु समग्र संसार में कोई ही ऐसा व्यक्ति होगा की जो नीता अंबानी को नहीं जानता हो। तो आज बात करनी है इस महान नारी की जिन्होंने अपनी मेहनत और लगन से अपना अलग ही मुकाम बनाया है।

इस परोपकारी नीता अंबानी को संयुक्त राज्य के सबसे बड़े कला संग्रहालय, “मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट” के बोर्ड ऑफ़ डिरेक्टर में उनके नाम का चयन किया गया है और उनको संग्रहालय के मानद ट्रस्टी के रूप में चुना गया है और लगभग १५० सालो के इतिहास में मेट के बोर्ड में ये पहला भारतीय है की जिसका चयन हुआ हो। इस खबर की घोषणा वहां के पूर्व अध्यक्ष डैनियल ब्रोडस्की ने की थी।

उन्होंने कहा की “श्रीमती अंबानी की द मेट के प्रति प्रतिबद्धता और भारत की कला और संस्कृति को संरक्षित करना और बढ़ावा देना वास्तव में असाधारण है। दुनिया के हर कोने से कला का अध्ययन करने और प्रदर्शित करने की संग्रहालय की क्षमता पर उसका समर्थन बहुत प्रभाव डालता है। यह एक खुशी है। नीता अंबानी का बोर्ड में स्वागत है।”

इस कार्यक्रम में, अंबानी ने टिप्पणी की कि वह संग्रहालय को गहराई से पुरस्कृत प्रयास का समर्थन करने का कारण पाते हैं। उन्होंने कहा, “यह भारत की कलाओं के प्रदर्शन के अपने कार्यक्रम का विस्तार करने और बढ़ाने की इच्छा में संग्रहालय का समर्थन करने के लिए बहुत फायदेमंद रहा है,” और कहा की “मैं मेट की गहरी रुचि से प्रभावित हुई हूं, जो हमारे भारतीय कला और संस्कृति को वैश्विक मंच पर देखने की प्रतिबद्धता में सक्षम बनाता है। यह महान गौरव मुझे प्राचीन से समकालीन भारत की विरासत और मेरे प्रयासों को फिर से परिभाषित करने के लिए प्रेरित करता है।”

नीता अंबानीजी रिलायंस फाउंडेशन की संस्थापक और चेयरपर्सन हैं, जिनका भारतीय कला और संस्कृति, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा को प्रोत्साहित करने पर विशेष ध्यान है। फाउंडेशन २०१६ से मेट का समर्थन कर रहा है। अंबानी, मेट्स इंटरनेशनल काउंसिल के सदस्य भी हैं। नीता अंबानी जी को इस गौरवपूर्ण पद के लिए हमारी और से शुभकामनाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *